BENEFITS OF GILOY :- गिलोय के फ़ायदे

 

 

 

गिलोय के फ़ायदे

आजकल गिलोय काफ़ी चर्चा में है क्युकि पतंजलि के कोरोनिल में गिलोय भी है | कोरोना का तो पता नही पर गिलोय एक जादुई आयुर्वेदिक बूटी है | जो बहुत सारे रोगों में फ़ायदेमंद है | बिना बीमार हुए भी आप इसे रोज़ाना लें सकते हैं |

 

I. गिलोय का परिचय

गिलोय का पौधा एक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है, इस पौधे को

  • हिंदी में गिलोय ,
  • बंगाली में गुलंचा,
  • गुजराती में गालो,
  • मराठी में गुवेल ,
  • तेलुगु में टेंपाटिज,
  • कन्नड़ में अमृत बल्ली ,
  • तमिल में शिंदिला कोडी
  • अंग्रेजी में हार्टलीफ़ मून या टिनोस्पोरा कॉर्डीफोलीया

बोला जाता है । संस्कृत में, गिलोय को ‘अमृता’ के रूप में जाना जाता है, जिसका अर्थ है ‘अमरता का मूल’। गिलोय का सेवन किसी भी रूप में किया जा सकता है जैसे रस, पाउडर, या कैप्सूल। नीचे मैने गिलोय कुछ प्रमुख इस्तेमाल के बारे में लिखा है |

a. इम्यूनिटी बूसटर के रूप में ( Immunity Booster)

गिलोय एंटीऑक्सिडेंट का एक बड़ा स्रोत है, जो फ्री-रेडिकल्स से लड़ सकता है। मुक्त कण कैंसर, उम्र बढ़ने, शरीर के विषाक्तता, हृदय की गिरफ्तारी के लिए जिम्मेदार हैं। तो शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालने के लिए गिलोय बहुत सहायक है, कैंसर से बचाता है और उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को धीमा करता है। कुल मिलाकर आप कह सकते हैं कि यह आपके प्रतिरक्षा स्तर में सुधार करता है।

b. क्रॉनिक फ़ीवर के लिए ( Chronic Fever)

गिलोय में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीपीयरेटिक (जो बुखार को कम करता है) गुण होते हैं। गिलोय के नियमित सेवन से प्लेटलेट काउंट बढ़ाने में मदद मिलती है। इसलिए विभिन्न प्रकार के बुखार जैसे डेंगू, स्वाइन फ्लू और मलेरिया से लड़ने के लिए गिलोय बहुत मददगार है।

 

c. टाइप 2 मधुमेह के लिए ( Type II Diabetes)

टाइप II मधुमेह के लिए: गिलोय ओरल एंटी हाइपरग्लाइसेमिक एजेंट के रूप में काम करती है। एंटी हाइपरग्लाइसेमिक एजेंट रक्त में ग्लूकोज के स्तर को कम करते हैं। इसलिए गिलोय मधुमेह (विशेष रूप से टाइप 2 मधुमेह) का इलाज करने में मदद करता है।

d. गठिया से बचाने के लिए (Arthritis)

गठिया से बचाने के लिए: “गिलोय में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-ऑर्थ्रेटिक गुण होते हैं। तो यह गठिया और इसके कई लक्षणों का सामना करने में मदद करता है। इम्यूनिटी बूस्टर होने के कारण यह आपको गठिया की किसी भी समस्या से बचाता है।

 

e. बेस्ट फॉर लिवर ( For Liver)

गिलोय आपके लिवर को डिटॉक्स कर सकता है। यह लीवर की सतह से वसा को हटाने में भी सक्षम है। गिलोय पीलिया, हेपेटाइटिस, और फैटी लीवर के इलाज में मदद कर रही है।

II. गिलोय की लता को पहचाने कैसे ?

गिलोय का लता हमारे आसपास होता है पर हम पहचान नही पाते है| शायद आपने इसे अपने आसपास देखा ही होगा , क्योकि इसके पत्ते ” पान के पत्ते ” के ही तरह देखने मे लगते है | आगे मैं आपको इसे पहचानने का तरीका बता रहा हूँ |

 

सबसे अच्छी बात है क़ि इसे आप गमले में अपने घर में लगा सकते है | ज़्यादा कुछ नही आपको इसके तना को गमले मे मिट्टी के साथ लगा देना है |

इसे सिर्फ पानी की जरूरत है| कुछ ही दिनो मे इसमे नये पत्ते निकल आएगे| आगे हम इस लेख मे गिलोय का पत्ता , तना, ओर गमले मे लगा पौधा भी दिखाएगे |

 

III. गिलोय के कौन कौन से प्रॉडक्ट हैं और खरीदे कैसे ?

अंत में एक और बात मैं आपको बताना चाहता हूँ, गिलोय के कौन कौन से प्रॉडक्ट हैं | नीचे मैने कुछ कंपनी के प्रॉडक्ट का नाम लिखा है | ऐसा नही है क़ि यही सब बेस्ट है, लेकिन मैं कह सकता हूँ की यह सब बेहतरीन है |

 

इनका इमेज मैने अपने Youtube. वीडियो में डाल दिया है | आपकी सुविधा के लिए मैने प्रॉडक्ट खरीदने लिए आमज़ॉन,SBL, 1mg, akiva, Schwabe का लिंक डाल दिया है | प्रॉडक्ट पर क्लिक करने से ही आप सम्बंधित पेज पर चले जाएँगे और ज़रूरत के हिसाब से खरीद सकते हैं |

PRODUCT NAME WITH PURCHASE LINK

  1. पतंजलि गिलोय जूस
  2. हिमालया गुदुची टॅब्लेट्स
  3. डाबर घन्बति (टॅब्लेट्स की तरह)
  4. झंडू गुदुची टॅब्लेट्स
  5. SBL गिलोय डाइल्यूशन- होम्योपैथी दवा
  6. Schwabe गिलोय डाइल्यूशन- होम्योपैथी दवा
  7. डाबर गिलोय शत्व ( पाउडर)
  8. Axiom गिलोय जूस
  9. Akiva गिलोय तुलसी 40ml का 30 शॉट्स या खुराक
  10. Akiva गिलोय 40 ml शॉट्स या खुराक

REFERENCES

  1. www.food.ndtv.com
  2. www.1mg.com
  3. www.en.wikipedia.org/wiki/Tinospora_cordifolia
  4. www.zanducare.com
  5. www.dabur.com
  6. www.healthmug.com
  7. www.ncbi.nlm.nih.gov
  8. www.patanjaliayurved.net
  9. www.baidyanath.com
  10. www.axiomayurveda.com

 

DISCLAIMER:-
उपर्युक्त लिखित सामग्री को की वेबसाइट से लिया गया है। इसका उपयोग केवल उदाहरण के लिए किया गया है। कोई कॉपीराइट उल्लंघन का इरादा नहीं है। इन रसों को अपने जोखिम पर लिया जा सकता है। यह किसी भी प्रकार की मेडिकल सलाह नहीं है। गिलोय के सेवन से पहले, अपने डॉक्टर से सलाह लें।

 

हमसे संपर्क करें

मोबाइल नंबर :- 8250621190 पर व्हाट्सएप या टेलीग्राम में संदेश दें । और हमें मेल करें: – rahulrainbow11@gmail.com.

You can put your queries on email- amitsrahul@gmail.com
rahulrainbow

Leave a Reply

Your email address will not be published.