MOST READABLE CLASSICAL NOVELS IN HINDI,हिन्दी की कालजयी कृति / रचनाएँ

Madhushala by Harivansh Rai Bachchan
Madhushala

 

MOST READABLE CLASSICAL NOVELS IN HINDI,हिन्दी की कालजयी कृति / रचनाएँ

 

किताबें सभी की सबसे अच्छी दोस्त होती हैं। टाइम पास के लिए या यात्रा के दौरान आप इन अमर हिंदी क्लासिक्स को पढ़ सकते हैं।

 

यहाँ मैंने कुछ के नाम का उल्लेख किया है | ये साहित्यकार हिंदी साहित्य की दुनिया में अमर हैं। लेख में मैने इन किताबों का बेहद संक्षिप्त में उल्लेख किया है |

 

मैने हिन्दी और इंग्लीश में बुक के बारें में लिखा है ताकि जो हिन्दी भाषी ना भी हो तो कम से कम बुक का परिचय तो जान जाए |

 

विस्तृत विवरण के लिए, आप विभिन्न साइटों पर जा सकते हैं या पुस्तक का पीडीएफ डाउनलोड कर सकते हैं।

 

इन सारी किताबें में ऐसा आकर्षण हैं की एक बार आप पढ़ना शुरू करेंगे, तो ख़तम होने पर ही छोड़ पाएँगे |

 

इन किताबों का सस्ता में खरीदने का एक उपाय है की NBT (National Book Trust) का मेंबर बन जाएँ और हर खरीद पर 20% का छूट पायें |

 

1. GUNAHON KA DEVTA:-

It is the best novel by Dharmvir Bharti. This novel is based on the very emotional love story of Chander & Sudha. Due to various, they can’t be married to each other. But both of them are not able to forget each other.

चंदर जो बचपन से सुधा का टीचर भी रहा है । सुधा की मा का बचपन देहांत हो गया है । सुधा चंदर से प्यार करती है । पर उसकी शादी चंदर से शादी नही हो पाती है । इसकी सज़ा सुधा खुद को देती है ।

 

2. NADI KE DWEEP:-

This novel is based on the love triangle of Bhuwan , Gaura and another woman. It is a highly philosophical story by Sachidanand Hiranan Vatsyayan “Agyeya”.

भुवन जो एक साइंटिस्ट है । और गौरा उसकी स्टूडेंट. गौरा भुवन को प्यार करती है । पर भुवन कन्फ्यूज़ है । वो गौरा से दूर भागता रहता है । इसी बीच रेखा भी भुवन की ज़िंदगी में आती है ।

 

3.CHITRALEKHA:-

This book defines that Demerit or Sin (Paap) & Merit (Punya) is a relative concept not absolute. Means Definition of Paap & Punya depends upon various conditions.

चित्रालेखा की कथा पाप और पुण्य पर आधारित है। पाप क्या है ? उसका निवास कहाँ है ? संसार में पाप कुछ भी नहीं है, यह केवल मनुष्य के दृष्टिकोण की विषमता है। हम न पाप करते हैं और न पुण्य करते हैं, हम केवल वह करते हैं जो हमें करना पड़ता है ।

 

4. SHEKHAR EK JIVNI (PART-I & PART-II):-

This book is of rebellious nature. The main character Shekhar has raised many questions against culture regarding the caste system & on condition of women in our society.

यह किताब विद्रोही प्रकृति का है। मुख्य चरित्र शेखर जाति व्यवस्था और हमारे समाज में महिलाओं की स्थिति पर के बारे में संस्कृति के खिलाफ कई सवाल उठाया है। ‘शेखर : एक जीवनी’ एक कालजयी कृति के रूप में मान्य है।

 

5. VAISHALI KI NAGARVADHU:-

It is written by Acharya Chatursen. It is the story of a very beautiful girl “Amrapali” who is forcefully announced as Nagarvadhu (Prostitute for Elite class people) of Vaishali. Vaishali was a democratic state of North India. It is contemporary to Lord Buddha.

 

After some time, Amrapali becomes the centre point of Vaishali Gaanrajya. यह बहुत ही सुंदर लड़की ‘आम्रपाली’ की कहानी है जो जबरदस्ती वैशाली की नगरवधु (संभ्रांत वर्ग के लोगों के लिए वेश्या) के रूप में की घोषित कर दी जाती है। वैशाली उत्तर भारत का लोकतांत्रिक राज्य था। यह भगवान बुद्ध के समकालीन है। कुछ समय के बाद, ‘आम्रपाली’ वैशाली की केंद्र बिंदु बन जाती है।

 

6. MAILA ANCHAL:-

It describes the social condition & culture of a small village in Bihar. A young doctor comes to the village for practice. He starts to change the bad rituals of the village. There is also a love story of a village girl & a Doctor.

‘मैला आँचल’ हिन्दी का आंचलिक उपन्यास है। नेपाल की सीमा से सटे उत्तर-पूर्वी बिहार के एक पिछड़े ग्रामीण अंचल का पटकथा है । कथानक एक युवा डॉक्टर है जो अपनी शिक्षा पूरी करने के बाद पिछड़े गाँव को अपने कार्य-क्षेत्र के रुप में चुनता है । यही से कहानी समाज और उसके प्यार को लेकर बढ़ता है ।

 

7. GODAAN :-

It is the story of a farmer (Hori) & the culture of the village and freedom fight effort that time. It is the most popular novel, Written by Premchand.

यह कहानी एक ग़रीब किसान होरी की है । जो एक गाय खरीदना चाहता है पर पैसे की तंगी की वजह से खरीद नही पता है। और उसके मरने के बाद ब्राह्मण उसके पत्नी को होरी की आत्मा की शांति के लिए गाय का दान करने बोलते है। इसमे समकालीन धार्मिक आडंबर को भी दिखया गया है ।

 

8. RUKOGI NAHI RADHIKA :-

This novel tells about “Cultural Shock” at Abroad for Newcomers from India. It also depicts “Reverse Cultural Shock” after returning to India with a bag & Baggage.

एक असामान्य पिता की सामान्य संतानों के साथ असहज संबंधों की कथा है। इस उपन्यास में उच्च-मध्यवर्गीय प्रवासी भारतीय समाज की तमाम अन्तर्विरोधों और कुंठाओं के बारे लिखा गया है ।

 

9. RASHMIRATHI: –

It is a collection of small poems by Ramdhari Singh Dinkar.He named as a Rashtrakavi (National Poet) due to inspiring patriotic compositions.

रामधारी सिंह दिनकर की कविताओं में उग्र राष्ट्रीयता का प्रदर्शन होता था | यह उनके छोटे कविताओं का संग्रह है ।

 

10. RASHIDI TICKET:-

It is her autobiography & one of most controversial books. She is Known as the most important voice for the women in Punjabi literature.

उनका जन्म 1919 पंजाब में (वर्तमान में पाकिस्तान में) हुआ था ।सन् 1935 में, अमृता प्रीतम, लाहौर के प्रीतम सिंह से शादी की। 1960 में, अमृता प्रीतम अपने पति को छोड़ दिया । उनकी मृत्यु नई दिल्ली में अक्टूबर 2005 हुई ।

 

11. CHARITRAHEEN:-

It is a story of Fight in between Bangla Culture & Western Culture. Four woman characters have been created for illustration of story.

कहानी चार मुख्य पात्रों महिलाओं-दो प्रमुख सावित्री और किरणमयी, और दो नाबालिग सुरबला और सरोजिनी है। पूर्व दो चरित्रहीन (चरित्रहीन) होने का आरोप लगाया जाता है। इसमें पश्चिमी विचारों के साथ रूढ़िवादी हिंदू समाज का संघर्ष दिखया गया है ।

 

12. DEVDAS:-

This novel is based on the very emotional love story of Devdas & Paro and Chandramukhi. Approx 10 nos. of movies have screen played on this novel in Indian Cinema.

पारो और देवदास बचपन से ही साथ पाले बढ़े हैं । लेकिन सामाजिक और आर्थिक कारणों सी उनकी शादी एक दूसरे से हो नही पति है. इसी विरह की आग में देवदास जलता रहता है ।

 

13. RAAG DARBARI :-

Sri Lal Sukla is a well-known writer for his social and political satire. This novel is also based on detailing a place’s political situations.

यह पूर्णतः राजनातिक भाषा में लिखी गयी उपन्यास है । इस उपन्यास की पटकथा में राज-मजदूरों, मिस्त्रियों, ठेकेदारों, इंजीनियरों और शिक्षित बेरोजगारों के जीवन पर केंद्रित किया है । उपन्यास के सभी प्रमुख पात्रों को लेखक ने मनोवैज्ञानिक सहजता प्रदान की है ।

 

 

14. MADHUSHALA :-

It is collection of small poems by Harivansh Rai Bachhan.

यह हरिवंश राय बच्चन द्वारा छोटे कविताओं का संग्रह है | इन कविताओं शराब के बहाने ज़िंदगी बहुत सारी भावनाओं का चित्रण किया है, जो आज भी उतना ही प्रासंगिक जितना पहले था |

 

15. SHESHYATRA:-

Usha Priyamada is a professor at USA’s university. She writes always the story of Pravasi Indians. It is the story of an Indian girl, who is married to NRI boy.

यह कहानी है अनु (एक भारतीय लड़की) और डॉ. प्रणवकुमार (प्रवासी, अमेरिका में बसा हुआ लड़के) की शादी के बाद की ज़िंदगी के बारे । USA आने के अनु खुद को बेहद कमजोर महसूस करती है | यहाँ से अनु की खुद को मजबूत बनाने का सफ़र शुरू होता है |

 

DISCLAIMER

ABOVE SHOWN IMAGES USED FOR ILLUSTRATIVE PURPOSES ONLY. NO COPYRIGHT INFRINGEMENT INTENDED.

 

You can put your queries on email- amitsrahul@gmail.com
rahulrainbow

1 thought on “MOST READABLE CLASSICAL NOVELS IN HINDI,हिन्दी की कालजयी कृति / रचनाएँ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *